Author Topic: दोस्त की भाभी  (Read 89495 times)

Offline Aisha

  • T. Members
  • 3 Stars
  • ***
  • Posts: 295
  • Reputation: +6/-0
  • Gender: Female
    • View Profile
दोस्त की भाभी
« on: December 06, 2010, 08:54:09 pm »
दोस्त की भाभी

प्रेषक : राहुल जैन

मैं राहुल जैन जयपुर में पढ़ाई कर रहा हूँ और मैं यहाँ किराये पर रहता हूँ। मैं अन्तर्वासना का नियमित पाठक हूँ।

मैं आपको अपनी पहली कहानी बताने जा रहा हूँ कि मैंने अपने दोस्त की भाभी को कैसे चोदा !

अन्तर्वासना की आदत मेरे एक दोस्त ने डाली और मुझे भी इसमें मजा आने लगा। मैं उसकी ही भाभी को चोदने के सपने देखने लगा। मैं उसमें सफल भी रहा।

मेरे दोस्त का फार्म-हाउस जयपुर से बाहर है, हम अकसर उनकी खेती बाड़ी देखने के लिए वहाँ जाते रहते हैं। उसकी भाभी बहुत सुन्दर है और सेक्सी है। उसकी गांड के उभार देख कर मेरा लण्ड तन जाता है।

एक बार मेरे दोस्त के फार्म हाउस पर एक कार्यक्रम था। तो उसके सभी घर वाले वहाँ काम सम्हलाने के लिए वहीं थे, उसके घर पर उसकी भाभी और भैया ही थे।

मेरे दोस्त का फोन मेरे पास आया- यार मेरी भाभी को शाम को फार्म हाउस पर लेकर आ जायेगा क्या ?

तो मैंने उसको पूछा- भैया नहीं हैं क्या ?

तो उसने कहा- भैया तो दुकान पर हैं और वो तो रात को सात बजे तक आयेंगे।

मैंने तुरन्त हाँ कर दी और पूछा- भाभी को कब तक लेकर आना है?

उसने कहा- चार बजे तक उसके लेकर रवाना होना है !

मैं उसके घर पर दो घंटे पहले ही पहुँच गया और देखा कि भाभी जाने की तैयारी कर रही हैं पर खुद तैयार नहीं हुई हैं।

भाभी ने गाउन पहन रखा थां।

भाभी मेरे लिए पानी लेकर आई और चाय के लिए रसोई में चली गई। मैं भी उनके पीछे-पीछे रसोई में चला गया और उनसे बातें करने लगा।

भाभी ने मुझसे पूछा- तुम मुझे अकसर घूरते क्यों रहते हो?

तो मैंने कहा- भाभी, आप बहुत सैक्सी हो !

भाभी की गांड देखते ही मेरा लण्ड खड़ा हो चला था। भाभी चोरी-छुपे मेरे लण्ड की तरफ देख रही थी, मैंने भाभी को कहा- क्या देख रही हो?

तो वो घबराने लगी, उन्होंने कहा- कुछ नहीं !

भाभी ने कहा- मैं तैयार होकर आती हूँ फिर अपन चलते हैं !

भाभी तैयार होने के लिए कमरे में चली गई। भाभी जब तैयार हो रही थी तो मैं उनको रोशनदान में से देख रहा था। उनके गोरे बदन को पैन्टी और ब्रा में देखकर मेरी हालत खराब हो रही थी, मेरा दिमाग केवल उनको चोदने के बारे में सोच रहा था।

तभी भाभी की नजर मेरे ऊपर पड़ गई, उन्होंने कहा- क्या देख रहे हो?

मैंने कहा- भाभी मैं आपको चाहता हूँ।

तो भाभी बोली- सोचते बहुत हो ! आ जाओ फटाफट और प्यार करो मुझे !

मैं उनके कमरे में गया और उनके गोरे बदन को अपनी बाहों में भरकर उनके गालों को, होंठों को चूमने लगा। उन्होंने भी मेरा पूरा साथ दिया और कहा- मैं तुमसे कई दिनों से चुदने के बारे में सोच रही थी लेकिन मौका नहीं मिल पा रहा था। आज मौका मिला है तो मेरी चूत को और गाण्ड दोनों को चोद दो।

मैंने उनकी पैंटी और ब्रा खोलकर अलग कर दी और उनके नंगे बदन के दर्शन किए। मेरी जिन्दगी में पहली बार नंगी लडकी या औरत को मैंने देखा था। मैं तो उनकी सफाचट चूत को देखकर पागल हो गया। मुझसे रहा नहीं गया और उनको बिस्तर पर बिठाकर उनकी टांगें चौड़ी करके उनकी चूत को चाटने लगा। उनको चूत चटवाने में बड़ा मजा आ रहा था।

उन्होंने कहा- मुझे भी तुम्हारा लण्ड चूसना है।

फिर हम दोनों 69 की दशा में आकर एक दूसरे को पागलों की तरह चाटने लग गये। मैंने उसकी भाभी के जोकि एकदम गोरी चिटटी थी, खूब मजे लिए। चाटते चाटते उसने मेरा और मैंने उनका पानी पी लिया।

फिर उन्होंने कहा- राजा अब फटाफट मेरी चूत में लण्ड डाल के चोद दो मुझे !

फिर मैंने उनकी दोनों टांगों को चौड़ा करके लण्ड को उनकी चूत पर रख दिया और एक झटके में उनकी चूत में मेरा लण्ड घुस गया। मेरा लण्ड पहली बार किसी की चूत के दर्शन कर रहा था।

मुझे तो जैसे स्वर्ग मिल गया हो, मैं कितना भाग्यशाली हूँ कि मुझे पहली बार में ही इतनी चिकनी चूत चोदने के लिए मिली। मैंने मेरी पहली चुदाई दस-पन्द्रह मिनट तक की और उनके गोरे-गोरे स्तनों को खूब दबाया। चूंकि हम जल्दी में थे इसलिए पहली बार इतनी सी चुदाई करके हमको संतुष्ट होना पड़ा।

फिर हम तैयार होकर मेरे दोस्त के फार्म हाउस पर पहुँचे। रास्ते में गाड़ी में मैंने उनकी चूत पर कई बार हाथ फिराया और बोबे भी दबाये।

उस कार्यक्रम में मैंने उनके कई बार बोबे दबाये। अब अक्सर जब भी मैं मेरे दोस्त के घर जाता हूँ तो मौका पाकर मैं उनके बोबे दबा देता हूँ।

इसके बाद तो मुझे चुदाई का ऐसा चस्का लगा कि मैंने अब तक पांच-सात लड़कियों और औरतों का चोदा है। मेरे टीचर की बहु को मैंने कैसे चोदा, अगली कहानी में लिखूंगा।

आपको मेरी पहली कहानी कैसी लगी, मुझे मेल अवश्य करें।

YUM Stories

दोस्त की भाभी
« on: December 06, 2010, 08:54:09 pm »

Offline Munazir

  • T. Members
  • 3 Stars
  • ***
  • Posts: 306
  • Reputation: +0/-0
  • Gender: Male
  • Your love makes me strong..
    • View Profile
    • http://www.itsmy.com
Re: दोस्त की भाभी
« Reply #1 on: January 03, 2011, 11:17:50 pm »
Short but Hot story..

Offline PKJMKJ

  • 2 Star
  • **
  • Posts: 78
  • Reputation: +0/-0
    • View Profile
Re: दोस्त की भाभी
« Reply #2 on: February 19, 2020, 02:33:52 pm »
nice story

 

Adblock Detected!

Our website is made possible by displaying online advertisements to our visitors.
Please consider supporting us by disabling your ad blocker on our website.